यूपी को देश ही नहीं, बल्कि विश्व में सबसे कम सड़क दुर्घटनाओं वाला प्रदेश बनायेंगे

दुर्घटना बाहुल्य स्थलों पर एम्बुलेंस की होगी व्यवस्था: जितिन प्रसाद

सड़क सुरक्षा की व्यवस्था के लिए अलग से गठित होगी टीम

सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी: दया शंकर सिंह

उत्तर प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री जितिन प्रसाद ने कहा कि प्रदेश को देश ही नहीं, बल्कि विश्व में सबसे कम सड़क दुर्घटनाओं वाला प्रदेश बनाने का लक्ष्य है। सड़क सुरक्षा सरकार की शीर्ष प्राथमिकताओं में है और हमेशा रहेगी। रोड सेफ्टी को आगे लेकर चलना है। इसमें लोक निर्माण, परिवहन, स्वास्थ्य, शिक्षा एवं पुलिस सहित अन्य विभागों की भी महत्वपूर्ण भूमिका है।


जितिन प्रसाद ने यह विचार राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह के समापन अवसर पर विश्वेश्वरैया हाल में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में व्यक्त किये। इस अवसर पर परिवहन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद थे।

इस मौके पर लोक निर्माण मंत्री विभाग के अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि सड़क दुर्घटना रोकने के लिए हाईवे पर अवैध कट को बंद करायें। छोटी सड़कों पर रम्बल स्ट्रीप्स तथा साइनेज का अवश्य प्रयोग किया जाये। उन्होंने कहा कि अच्छी सड़कें भी बनेंगी, अच्छी बसे भी चलेंगी और लोगों की सुरक्षा भी सुनिश्चित की जायेगी। उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटना में घायल व्यक्ति के जीवन को बचाने के लिए दुर्घटना बाहुल्य स्थलों पर एम्बुलेंस की व्यवस्था की जायेगी।

परिवहन मंत्री दयाशंकर सिंह ने कहा कि परिवहन विभाग नें पिछले दो वर्षों में सड़क दुर्घटनाओं से होने वाली मृत्यु को रोकने के लिए जन जागरूकता कई कार्यक्रम चलाये हैं। सड़क दुर्घटना में मृत्यु होना दर्शाता है कि सड़क सुरक्षा के नियमों का कड़ाई से अनुपालन नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन न करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें।

परिवहन मंत्री ने कहा कि सड़क सुरक्षा की व्यवस्था के लिए अलग से टीम गठित करने के विषय पर मुख्यमंत्री ने स्वीकृति प्रदान कर दी है। उन्होंने कहा कि एक बार वे स्वयं भी सड़क दुर्घटना के शिकार हो चुकें हैं। एक व्यक्ति ने सही समय पर मुझे अस्पताल पहुँचाया और मेरी जान बचाई। सड़क दुर्घटना के समय देवदूत बनकर मदद करने वाले ऐसे गुड सिमेरिटन को आज सम्मानित करके गर्व महसूस कर रहा हूँ। गुड सिमेरिटन की संख्या जितनी अधिक होगी उतनी सड़क दुर्घटनाओं में मृत्यु कम होगी।

प्रमुख सचिव परिवहन एल॰ वेंकटेश्वर लू ने कहा कि पिछले साल से लेकर अब तक सड़क सुरक्षा के दृष्टिगत लगातार गतिविधियां विभाग द्वारा संचालित की गईं हैं। राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा माह से लेकर राज्य स्तर एवं जिले स्तर तक सड़क सुरक्षा संबंधी गतिविधियां विभाग द्वारा की जा रही हैं। ट्रैफिक पुलिस, पीडब्ल्यूडी, स्वास्थ्य विभाग, शिक्षा विभाग के समन्वय से निष्ठापूर्वक कार्य किया जाए, तो सड़क दुर्घटना में और अधिक कमी लायी जा सकती है।

इस अवसर पर सड़क दुर्घटनाओं में कमी लाने वाले जिलों के अधिकारियों को सम्मानित किया गया। दुर्घटना में घायल लोगों का जीवन बचाने वाले गुड सेमेरिटन को पुरस्कृत किया गया था तथा रोड सेफ्टी क्रिकेट टीम की जसी को लांच किया गया।

कार्यक्रम में परिवहन आयुक्त, चन्द्र भूषण सिंह, प्रमुख अभियंता लोक निर्माण/विभागाध्यक्ष वी0के0 श्रीवास्तव सहित परिवहन एवं लोक निर्माण विभाग के उच्च अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
");pageTracker._trackPageview();
btnimage