उ0प्र0 देश का पहला राज्य है, जिसके सबसे अधिक शहरों में मेट्रो की सुविधा: CM Yogi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आगरा मेट्रो रेल परियोजना के प्राथमिक सेक्शन (ताज ईस्ट गेट स्टेशन से मनःकामेश्वर स्टेशन तक) यात्री सेवा का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर आगरा में ताज महल मेट्रो स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी  सम्मिलित हुए। प्रधानमंत्री ने कोलकाता से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा आगरा मेट्रो रेल परियोजना उद्घाटन पट्ट का अनावरण तथा इनॉगरल मेट्रो ट्रेन का फ्लैग ऑफ किया। इसके उपरान्त मुख्यमंत्री ने हरी झण्डी दिखाकर आगरा मेट्रो रेल को रवाना किया। मुख्यमंत्री ने प्रथम यात्री के रूप में विभिन्न स्कूलों के बच्चां तथा जनप्रतिनिधियों के साथ मेट्रो की यात्रा की।


मुख्यमंत्री ने आगरावासियों तथा यहां आने वाले पर्यटकों को मेट्रो के शुभारम्भ की बधाई देते हुए कहा कि आगरा प्रदेश के प्राचीन शहरां में से एक है। यह ब्रज भूमि का नगर है। आगरा छत्रपति शिवाजी महाराज के शौर्य और पराक्रम की गाथा से जुड़ा शहर है। इस शहर ने अनेक उतार-चढ़ाव देखे हैं। यह शहर आधुनिक सुविधाओं का केन्द्र बने इसके लिए मेट्रो आवश्यक थी। प्रधानमंत्री जी ने आगरा को मेट्रो की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए तेजी से कार्यों को आगे बढ़ाया। आज आगरा का यह स्वप्न पूरा हो चुका है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दिसम्बर, 2021 में आगरा मेट्रो के कार्यों का शुभारम्भ हुआ था। मात्र 02 वर्ष में ही 06 किलोमीटर के प्रायरिटी सेक्शन का पहला कार्य पूरा होकर आज मेट्रो प्रारम्भ हो गई है। इसमें 03 अण्डरग्राउण्ड तथा 03 एलिवेटेड स्टेशन हैं। आगरा मेट्रो के प्रारम्भ होने के साथ ही, उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है, जिसके सबसे अधिक शहरों में मेट्रो की सुविधा है। इससे पहले लखनऊ, गाजियाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा और कानपुर में मेट्रो सेवा प्रारम्भ हो चुकी है। यह प्रसन्नता का विषय है कि उत्तर प्रदेश के 6वें शहर आगरा में पब्लिक ट्रांसपोर्ट की बेहतरीन सुविधा उपलब्ध हुई है।

मुख्यमंत्री  ने कहा कि उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने कानपुर, लखनऊ तथा आगरा मेट्रो के कार्यों को जिस तत्परता से किया है, उसकी सर्वत्र सराहना हुई है। आगरा मेट्रो के 03 अण्डर ग्राउण्ड स्टेशन जो 03 किलोमीटर क्षेत्र में है, उन्हें एक निर्धारित समय सीमा से पूर्व विकसित किया गया है। ऐसा कर आगरा मेट्रो देश में सबसे तीव्र गति से कार्य करने वाली मेट्रो बनी है। यह एक बड़ी उपलब्धि है।

मुख्यमंत्री ने प्रदेशवासियां तथा पर्यटकों के हित में प्रधानमंत्री जी के विजन को प्रभावी ढंग से आगे बढ़ाने के लिए उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉरपोरेशन को बधाई दी। उन्होंने कहा कि यह कार्य आम जनमानस की सुविधा तथा सुरक्षा को ध्यान में रखकर किए गए प्रयासों का प्रतिफल है। यह दर्शाता है कि यदि कार्यों की गुणवत्ता को बनाए रखते हुए प्रोजेक्ट समयबद्ध तरीके से पूर्ण किए जाएं, तो यह जनविश्वास का प्रतीक बन सकते हैं। कानपुर, लखनऊ तथा अन्य शहरों में मेट्रो सेवाओं की तर्ज पर आगरा मेट्रो भी आमजन के विश्वास का प्रतीक बनेगी।


मुख्यमंत्री ने कहा कि आगरा में अन्य सुविधाओं के अन्तर्गत एयरपोर्ट के सिविल टर्मिनल के कार्यों को तेजी के साथ आगे बढ़ाया जा रहा है। गंगाजल प्रोजेक्ट के माध्यम से आगरा को पवित्र एवं शुद्ध गंगाजल की उपलब्धता हुई है। आई0टी0 सेक्टर में आगरा को आगे बढ़ाने के लिए सरकार प्राथमिकता से कार्य कर रही है। डबल इंजन सरकार द्वारा यहां के नागरिकों तथा यहां आने वाले पर्यटकों की सुविधा के दृष्टिगत जो प्रयास किए गए हैं, उसके परिणाम हमें मेट्रो, एयरपोर्ट, अन्य जनसुविधाओं तथा बेहतरीन इन्फ्रास्ट्रक्चर के रूप में दिखायी दे रहे हैं। इन कार्यों के लिए यहां के जनप्रतिनिधियों ने विशेष प्रयास किए हैं। इन्होंने यहां के विकास के लिए अपना समय व सहयोग दिया है।

मुख्यमंत्री ने होली के पर्व के पहले आगरावासियां को मेट्रो के उपहार के लिए प्रधानमंत्री के प्रति आभार प्रकट किया। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि आगरा मेट्रो के अन्य फेज के कार्यों को भी जनप्रतिनिधियों के सहयोग से समयबद्ध तरीके से आगे बढ़ाया जाएगा।

ज्ञातव्य है कि आगरा मेट्रो रेल को भारत सरकार द्वारा विभिन्न पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। आगरा मेट्रो रेल पूरी तरह से मेक इन इण्डिया है। यह आत्मनिर्भर भारत की परिकल्पना को साकार करती हैं। इन्हें गुजरात में वडोदरा स्थित सांवली प्लाण्ट में तैयार किया जा रहा है। यह ट्रेनें रिजेनरेटिव ब्रेकिंग तकनीक से ऊर्जा संरक्षण करने तथा वायु प्रदूषण को कम करने के लिए अत्याधुनिक प्रोपल्शन सिस्टम से लैस हैं। इन ट्रेनों में यात्रियों के लिए विभिन्न सुविधाएं उपलब्ध होगी।


इस अवसर पर केन्द्रीय आवास एवं शहरी कार्य राज्यमंत्री कौशल किशोर, केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्यमंत्री एस0पी0 सिंह बघेल, प्रदेश की महिला कल्याण एवं बाल विकास मंत्री बेबी रानी मौर्य, उच्च शिक्षा मंत्री योगेन्द्र उपाध्याय, कारागार एवं होमगार्ड्स राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) धर्मवीर प्रजापति सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
");pageTracker._trackPageview();
btnimage