CM Yogi के समक्ष पुलिस एवं पी0ए0सी0 की विभिन्न योजनाओं के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के समक्ष उनके सरकारी आवास पर पुलिस एवं पी0ए0सी0 की विभिन्न योजनाओं के सम्बन्ध में प्रस्तुतिकरण किया गया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश के विभिन्न जनपदों में बनने वाली पुलिस लाइन्स को मॉडल के रूप में विकसित किया जाए। इनमें उत्तर प्रदेश पुलिस के कार्यों एवं उपलब्धियों के सम्बन्ध में एक म्युजियम बनाया जाए। इसके साथ ही, प्रत्येक पुलिस लाइन्स में शहीद स्मारक के निर्माण की कार्यवाही भी की जाए। पुलिस लाइन्स में सेफ सिटी परियोजना के लिए स्थान होना चाहिए।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश की राजधानी लखनऊ में स्थापित हो रहे उत्तर प्रदेश स्टेट इन्स्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज के निर्माण कार्यों में तेजी लाते हुए इसे शीघ्र पूरा किया जाए। इसे विश्वस्तरीय संस्थान के रूप में विकसित किया जाए। इस वर्ष इसमें कुछ कोर्सेज की शुरुआत कर दी जाए। इनमें पोस्ट ग्रेजुएट तथा अण्डर ग्रेजुएट कोर्सेज के साथ पी0जी0 डिप्लोमा तथा सर्टिफिकेट कोर्स भी शुरू किए जाएं। इनमें ड्रोन सिक्योरिटी, ड्रोन टेक्नोलॉजी, साइबर सिक्योरिटी, टॉक्सिकोलॉजी, डी0एन0ए0/जीनोम सिक्वेंसिंग सहित न्यू ऐज कोर्सेज संचालित किए जाने चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पी0ए0सी0 वाहिनियों में भी म्युजियम तथा शहीद स्मारक की स्थापना की जाए। समस्त पी0ए0सी0 वाहिनियों में खेलकूद की गतिविधियां होनी चाहिए। पी0ए0सी0 की विभिन्न वाहिनियों के मध्य स्पोर्ट्स मीट का आयोजन कराया जाए। पी0ए0सी0 वाहिनियों में जवानों द्वारा श्रमदान के माध्यम से स्वच्छता आदि से सम्बन्धित गतिविधियां की जानी चाहिए। उन्होंने जनपद गोरखपुर, लखनऊ तथा बदायूं में स्थापित हो रहीं पी0ए0सी0 महिला बटालियन के निर्माण कार्य में तेजी लाए जाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश पुलिस एवं पी0ए0सी0 द्वारा बिजनौर से वाराणसी तक नौकाओं से गंगा यात्रा का आयोजन किया जाए। राज्य सरकार के वर्तमान कार्यकाल के 01 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में यह आयोजन प्रासंगिक होगा। इस यात्रा को नमामि गंगे परियोजना से जोड़ते हुए गंगा जी के तटवर्ती क्षेत्रों में साफ-सफाई के कार्यक्रमों का आयोजन भी किया जाए। प्रथम चैत्र नवरात्रि के दौरान 22 से 29 मार्च, 2023 के दौरान प्रदेश में महिला सशक्तिकरण रैली का आयोजन किया जाए। यह रैली पूर्व से पश्चिम (विन्ध्याचल धाम से जनपद गौतमबुद्धनगर) तथा उत्तर से दक्षिण (देवीपाटन धाम से जनपद ललितपुर) के मध्य 02 पहिया वाहनों पर महिला पुलिसकर्मियों द्वारा निकाली जाए।

बैठक में अवगत कराया गया कि पी0ए0सी0 के जवानों के बैरकों एवं आवासीय व्यवस्था में मूलभूत सुधार हेतु वित्तीय वर्ष 2021-22 में प्राप्त 03 करोड़ 75 लाख रुपये की धनराशि के सापेक्ष वित्तीय वर्ष 2022-23 में लगभग 4 गुना अधिक 14 करोड़ 50 लाख 85 हजार रुपये का अनुदान दिया गया है। इससे पी0ए0सी0 के जवानों की मूलभूत सुविधाओं में गुणात्मक सुधार हुआ है।

इस अवसर पर मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, पुलिस महानिदेशक डी0एस0 चौहान, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री, गृह एवं सूचना संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
btnimage