महाकुम्भ 2025 : प्रयागराज के धार्मिक स्थलों का होगा पर्यटन विकास

महाकुम्भ 2025 के लिए संगम नगरी प्रयागराज के धार्मिक स्थलों का पर्यटन विकास किया जाएगा। जिसके लिए आज पर्यटन विकास विभाग ने 40 करोड़ की धनराशि जारी की। उत्तर प्रदेश सरकार के औद्योगिक विकास मंत्री एवं प्रयागराज शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र से विधायक नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने आज लखनऊ में पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह से मुलाकात कर प्रयागराज में पर्यटन विकास की असीम संभावनाओं पर चर्चा की। वहीं प्रयागराज के धार्मिक स्थलों के विकास के लिए 40 करोड़ की धनराशि जारी होने पर आभार जताया।

महाकुम्भ-2025 के लिए प्रयागराज को सजाने संवारने एवं धार्मिक स्थलों को विकसित करने के प्रस्तावों को धरातल पर उतारने का काम शुरू हो गया है। मंत्री नन्दी ने भी कुछ दिनों पूर्व पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह से मुलाकात कर अपने प्रयागराज शहर दक्षिणी विधानसभा क्षेत्र के दरियाबाद स्थित तक्षक तीर्थ एवं मां कल्याणी देवी मंदिर के साथ ही अन्य प्रमुख धार्मिक स्थलों को विकसित करने का प्रस्ताव दिया था। जिसे स्वीकृति प्रदान करते हुए पर्यटन विभाग ने धनराशि जारी कर दी है। मंत्री नन्दी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में महाकुम्भ 2025 का भव्य और भव्यतम आयोजन होगा, जिसे पूरी दुनिया देखेगी, जिसकी तैयारी अभी से शुरू हो गई है।

पर्यटन विभाग द्वारा जारी किए गए 40 करोड़ की धनराशि से दरियाबाद स्थित तक्षक तीर्थ, महर्षि भारद्वाज आश्रम, द्वादश माधव मंदिर, पंचकोषी परिक्रमा पथ के मंदिरों, कल्याणी देवी मंदिर, अलोपशंकरी देवी, पड़ीला महादेव मंदिर, दुर्वासा ऋषि आश्रम आदि धार्मिक स्थलों का पर्यटन विकास किया जायेगा।

Related Articles

Back to top button
btnimage