मुख्य सचिव ने ट्रकों की ओवरलोडिंग की रोकथाम के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की

मुख्य सचिव ने उ0प्र0 राज्य सड़क परिवहन निगम के कार्यों की समीक्षा की

लखनऊ। मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने उ0प्र0 राज्य सड़क परिवहन निगम के कार्यों की समीक्षा तथा परिवहन विभाग में ट्रकों की ओवरलोडिंग की रोकथाम के संबंध में विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक की।

अपने संबोधन में मुख्य सचिव ने कहा कि दिनांक 01 जुलाई, 2023 से 15 जुलाई, 2023 तक ओवरलोडिंग की रोकथाम के लिये विशेष अभियान चलाया जाये। ओवरलोडिंग पर पूर्णतः प्रतिबंध लगाया जाए। मानसून के पूर्व मुख्यतः खनन क्षेत्र के जनपदों में गठित टास्क फोर्स को पूर्णतः क्रियाशील कराते हुए निरंतर प्रभावी प्रवर्तन कार्यवाही की जाए।

उन्होंने टोल प्लाजा से ओवरलोडेड वाहन गुजरने पर उनका चालान कराने का सुझाव दिया। 4-5 बार से ज्यादा चालान होने पर उनका पंजीकरण निरस्त किया जाए। बिना नंबर प्लेट व फर्जी नंबर प्लेट वाले वाहनों पर भी कड़ी कार्यवाही की जाए और जुर्माने की धनराशि को भी बढ़ाया जाये। सीमावर्ती राज्यों से आने वाले ओवरलोडेड वाहनों पर भी रोकथाम लगायी जाये।

उन्होंने कहा कि बस दुर्घटनाओं पर रोकथाम लगाने के लिये सभी डिपों पर वाहन चालकों को प्रशिक्षण दिया जाये। वाहन चालकों को नई टेक्नोलॉजी के बारे में भी अवगत कराया जाये।

बैठक में बताया गया कि परिवहन विभाग द्वारा ओवरलोड वाहनों के विरुद्ध वित्तीय वर्ष 2022-2023 में 1,41,946 चालान व 34,369 वाहनों को बंद किया गया तथा वित्तीय वर्ष 2023-2024 (अप्रैल एवं मई) में 18,004 चालान, 7858 वाहनों को बंद किया गया।

बैठक में प्रमुख सचिव परिवहन एल0वेंकटेश्वर लू, प्रमुख सचिव खनन अनिल कुमार, निदेशक खनन  रोशन जैकब, परिवहन आयुक्त चन्द्र भूषण सिंह, प्रबंध निदेशक यूपीएसआरटीसी मासूम अली सरवर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
btnimage