UPSRTC : आयोध्या के RM और कैसरबाग डिपो लखनऊ के ARM पर गिरी गाज

आयोध्या के क्षेत्रीय प्रबंधक का एक वर्ष की वेतन वृद्धि अस्थायी रूप से रोकी गई

सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक कैसरबाग डिपो लखनऊ को मनमाने ढंग से कार्य करने के लिए दी गई परनिन्दा प्रविष्टि

UPSRTC : उत्तर प्रदेश परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक ने क्षेत्रीय प्रबंधक अयोध्या विमल राजन को नियम विरुद्ध कार्य करने, भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने एवं दायित्वों का निर्वहन न करने के लिए उनकी एक वर्ष की वार्षिक वेतन वृद्धि अस्थायी रूप से रोक दी है। प्रकरण है कि क्षेत्रीय प्रबंधक अयोध्या क्षेत्र द्वारा अयोध्या क्षेत्र के स्तर से भी सहायक यातायात निरीक्षक रजनीकांत मिश्रा के विरुद्ध दण्डादेश पारित किये जाने की स्थिति में उन्हें तत्काल प्रर्वतन कार्यों से हटाते हुए बुकिंग लिपिक के पद पर प्रत्यावर्तित किया जाना चाहिए था, जो उनके द्वारा नहीं किया गया। इसके लिए उन्हें दण्डित किया गया है।

एक अन्य प्रकरण में एमडी परिवहन निगम ने सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक कैसरबाग डिपो लखनऊ अरविन्द कुमार को मनमाने ढंग से कार्य करने के लिए परनिन्दा प्रविष्टि का दण्ड दिया है। प्रकरण है कि कैसरबाग डिपो की बस संख्या यूपी-78/एफएन-2651 हरदोई-लखनऊ मार्ग पर संचालित थी। 14 फरवरी, 2024 को पचकोहरा नामक स्थान पर प्रर्वतन दल द्वारा निरीक्षण किये जाने पर पाया गया कि 50 यात्रियों को पचकोहरा से टिकट निर्गत किया गया है, जबकि परिचालक द्वारा सभी यात्रियों से किराये की धनराशि हरदोई से ही वसूल की गई थी। सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक कैसरबाग द्वारा अवधेश कुमार निलम्बित परिचालक कैसरबाग डिपो को बिना किसी आधार के सेवा में अनन्तिम रूप से बहाल कर दिया गया था।

Related Articles

Back to top button
btnimage