एलडीए से 9 सहकारी आवास समितियों को दी गयी जमीन की होगी जांच

सचिव की अध्यक्षता में गठित पांच सदस्यीय कमेटी करेगी पूरी प्रकरण की जांच, एक सप्ताह में देनी होगी पूरी रिपोर्ट

लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डाॅ0 इन्द्रमणि त्रिपाठी ने समायोजन में फर्जीवाड़े की शिकायत पर दिये जांच के आदेश
लखनऊ विकास प्राधिकरण द्वारा 9 सहकारी आवास समितियों को दी गयी जमीन की अब जांच होगी। इन समितियों को कब और किन परिस्थितियों में भूमि समायोजित की गयी और फिर इनमें किन-किन लोगों को भूखण्ड आवंटित किये गये। जांच में इसका पूरा ब्योरा खंगाला जाएगा। प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डाॅ0 इन्द्रमणि त्रिपाठी ने भूमि समायोजन में फर्जीवाड़े की शिकायत पर मामले की जांच के आदेश दिये हैं। इसके लिए सचिव की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय कमेटी गठित की गयी है, जोकि एक सप्ताह में पूरे प्रकरण की जांच करके अपनी रिपोर्ट देगी।
उपाध्यक्ष डाॅ0 इन्द्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि शिकायत आयी थी कि विभिन्न सहकारी आवास समितियों द्वारा लखनऊ विकास प्राधिकरण से फर्जी लोगों के नाम भूखण्ड आवंटित कराने का खेल किया गया है। इसमें प्रमुख रूप से 9 सहकारी आवास समितियों का जिक्र सामने आया है, जिसके विषय में सघन जांच की आवश्यकता है। लिहाजा इस सम्बंध में प्राधिकरण के सचिव विवेक श्रीवास्तव की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय जांच टीम गठित की गयी है। इस टीम में अपर सचिव ज्ञानेन्द्र वर्मा, संयुक्त सचिव सुशील प्रताप सिंह, मुख्य नगर नियोजक के0के0 गौतम व प्रभारी अधिकारी-अर्जन शशिभूषण पाठक को शामिल किया गया है। यह कमेटी उक्त 9 हाउसिंग सोसाइटियों का स्थल निरीक्षण करने के साथ ही पत्रावलियों का परीक्षण करके समायोजन सम्बंधी पूरी कार्यवाही की जांच करेगी। कमेटी को एक सप्ताह के अंदर पूरे प्रकरण की जांच करके विस्तृत रिपोर्ट देनी होगी, जिसके आधार पर आगे की कार्यवाही की जाएगी।
 उजरियांव आवासीय योजना में 5 समितियों को दी गयी जमीन
उपाध्यक्ष डाॅ0 इन्द्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि उजरियांव आवासीय योजना के अंतर्गत 5 सहकारी आवास समितियों को जमीन समायोजित की गयी। इसमें मानसरोवर सहकारी आवास समिति लि0 को ग्राम-विजयीपुर की 19277.29 वर्गमीटर भूमि, स्वर्गाश्रम सहकारी आवास समिति को ग्राम-उजरियांव की 22764 वर्गमीटर भूमि, फ्रेण्डस सहकारी आवास समिति को ग्राम-जियामऊ की 52847.365 वर्गमीटर भूमि, प्रोगेसिव सहकारी आवास समिति को ग्राम-विजयीपुर व कमता की 61181.47 वर्गमीटर भूमि व अमरपुरी सहकारी गृह निर्माण समिति लि0 को ग्राम-तखवा कठौता व उजरियांव की 4695 वर्गमीटर भूमि समायोजित की गयी।
वर्ष 1993 से वर्ष 2017 के बीच किये गये समायोजन
उपाध्यक्ष डाॅ0 इन्द्रमणि त्रिपाठी ने बताया कि हरदोई रोड कामधेनू नगर प्रसार योजना के अंतर्गत रिवर व्यू सहकारी आवास समिति लि0 को ग्राम-छन्दोईया की 27730.20 वर्गमीटर भूमि दी गयी। टिम्बर नगर आवासीय योजना के तहत मेसर्स लखनऊ विकास सहकारी आवास समिति लि0 को ग्राम-पुरनिया की 10908 वर्गमीटर जमीन समायोजित की गयी। इसके अलावा अमर शहीद पथ गोमती नगर विस्तार योजना के अंतर्गत दि हिमालयन सहकारी आवास समिति को ग्राम-मकदूमपुर की 10805 वर्गमीटर भूमि एवं बहुजन निर्बल वर्ग सहकारी गृह निर्माण समिति को 56307 वर्गमीटर जमीन समायोजित की गयी। उपाध्यक्ष ने बताया कि यह सभी समायोजन वर्ष 1993 से लेकर वर्ष 2017 के बीच किये गये हैं। उक्त सभी प्रकरणों में जांच रिपोर्ट आने के बाद नियमानुसार कार्यवाही की जाएगी।

Related Articles

Back to top button
btnimage