मुजफ्फरनगर का गुड़ प्रदेश, देश व दुनिया में अपनी मिठास बिखेर रहा: UPCM Yogi

मुख्यमंत्री ने जनपद मुजफ्फरनगर के शुकतीर्थ में विभिन्न विकास एवं जनकल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद, ग्राम परिक्रमा यात्रा का शुभारम्भ किया

ग्राम फिरोजपुर बांगर में जाकर किसानों के साथ ‘किसान चौपाल’ में सवांद स्थापित किया

शुकतीर्थ धाम जीवन के परम पुरुषार्थ को प्रदान करने वाला धाम, डबल इंजन सरकार के प्रयासों से माँ गंगा की धारा अब यहां से प्रवाहित हो रही

मुख्यमंत्री ने शुकतीर्थ स्थित शुकदेव आश्रम में स्वामी कल्याण देव की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की, शुकदेव मन्दिर में पूजा-अर्चना और प्राचीन वट वृक्ष की परिक्रमा की

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि किसानों को गत वर्ष के गन्ने का भुगतान 99.09 प्रतिशत किया जा चुका है। नये सत्र में प्रदेश की 119 चीनी मिलों में से 105 चीनी मिलें 10 दिन से कम समय में गन्ना मूल्य का भुगतान कर रही हैं। शेष चीनी मिलों को निर्देश दिए गये हैं कि अन्नदाता किसानों की मेहतन का पैसा उन्हें समय पर दिया जाए। डबल इंजन सरकार जो कहती है, वह करती है। इसलिए हर क्षेत्र में परिवर्तन आया है।


मुख्यमंत्री योगी ने जनपद मुजफ्फरनगर के शुकतीर्थ में आयोजित एक जनसभा में अपने विचार व्यक्त किये। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने विभिन्न विकास एवं जनकल्याणकारी योजनाओं के लाभार्थियों से संवाद किया तथा ग्राम परिक्रमा यात्रा का शुभारम्भ किया। मुख्यमंत्री ने शुकतीर्थ स्थित शुकदेव आश्रम में स्वामी कल्याण देव जी की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की तथा शुकदेव मन्दिर में पूजा-अर्चना की और प्राचीन वट वृक्ष की परिक्रमा की। कार्यक्रम के शुभारम्भ पर उन्होंने ट्रैक्टर एवं हल का पूजन भी किया।

 

मुख्यमंत्री ने कहा कि शुकतीर्थ सनातन हिन्दू धर्म का पवित्र तीर्थ स्थल है। आज से 05 हजार वर्ष पूर्व भगवान वेदव्यास के पुत्र महाराज शुकदेव जी ने यहीं पर श्रीमद् भागवत महापुराण की पहली कथा राजा परीक्षित को सुनायी थी। यह कथा जन्म और जीवन दोनों को धन्य करती है। शुकतीर्थ धाम जीवन के परम पुरुषार्थ को प्रदान करने वाला धाम है। प्रदेश सरकार ने आश्वासन दिया था कि माँ गंगा की धारा यहां से निकलेगी, वह आश्वासन डबल इंजन सरकार द्वारा पूरा किया जा चुका है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान में लोगों को सुख और समृद्धि के साथ सुरक्षा का बेहतर माहौल मिला है। वर्ष 2017 से पूर्व प्रदेश में दंगे होते थे। मुजफ्फरनगर का दंगा कई महीनों तक चला था। प्रदेश में विगत 07 वर्षों में कहीं भी कोई दंगा नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि प्रदेश की पहली कैबिनेट बैठक में उत्तर प्रदेश के 86 लाख किसानों का फसली ऋण माफ किया गया। निजी नलकूप चलाने वाले कृषकों का विद्युत बिल माफ करते हुए विगत वर्ष के बजट में 1500 करोड़ रुपये एवं वर्तमान बजट में 2400 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गयी है। सरकारी ट्यूबवेल के लिए 1100 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है। पी0एम0 कुसुम योजना के अन्तर्गत राज्य में 50 हजार सोलर पम्प लगाने के लिए व्यवस्था की गयी है। सभी जनपदों में मोटे अनाज एवं प्राकृतिक खेती के लिए टेस्टिंग लैब के साथ-साथ उसकी पैकेजिंग की व्यवस्था की जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राम परिक्रमा यात्रा के अन्तर्गत जनप्रतिनिधिगण गांव-गांव जाकर अन्नदाता किसानों से संवाद बनाएंगे। जिन किसानों को डबल इंजन  सरकार की योजनाओं का लाभ प्राप्त हुआ है, उनकी सफलतम कहानी को जनता के सामने प्रस्तुत करेंगे। जो किसान योजनाओं का लाभ लेने से वंचित रह गए हैं, उनका तत्काल रजिस्ट्रेशन कराकर उन्हें आने वाले समय में 100 प्रतिशत सैचुरेशन के साथ लाभ पहुंचाया जाएगा। ग्राम परिक्रमा यात्रा 09 संकल्पों के साथ प्रारम्भ की जा रही है। इन संकल्पों में जल संरक्षण, ग्राम स्तर पर डिजिटल पेमेंट बढ़ाना, स्वच्छता, वोकल फॉर लोकल, घरेलू पर्यटन में वृद्धि, जैविक और प्राकृतिक खेती को बढ़ावा देना, किसानों की आय बढ़ाने के लिए मोटे अनाज की खेती को प्रोत्साहित करना, ग्रामीण खेल और फिटनेस को बढ़ावा देना, आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्ति को सरकार की विभिन्न योजनाओं से लाभ पहुंचाना शामिल हैं।


हमारे अन्नदाता किसान हर परिस्थिति में राम-राम का सम्बोधन करते हैं। अयोध्या में प्रभु श्रीरामलला अपने भव्य मंदिर में प्रधानमंत्री  नरेन्द्र मोदी के कर-कमलों से विगत 22 जनवरी को विराजमान हुए हैं। श्रीरामलला के दर्शनों हेतु लाखों की संख्या में श्रद्धालु अयोध्या पंहुच रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि एक तरफ श्रीरामलला का भव्य आगमन हुआ है और दूसरी तरफ किसानों के मसीहा पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 चौधरी चरण सिंह, बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री एवं सामाजिक क्रान्ति के अग्रदूत कर्पूरी ठाकुर, प्रख्यात कृषि वैज्ञानिक प्रो0 एम0एस0 स्वामीनाथन को भारत रत्न सम्मान दिए जाने की घोषणा की जा चुकी है। इसके लिए मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री एवं भारत सरकार का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इन विभूतियों को भारत रत्न देकर भारत ने आने वाली पीढ़ी के लिए रत्नों की एक श्रृंखला को खड़ा किया है। इससे प्रेरणा लेकर आने वाली पीढ़ी, भविष्य का मार्गदर्शन प्राप्त करेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वॉयल हेल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, एम0एस0पी0 मूल्य घोषित करने के साथ ही देश में 12 करोड़ कृषकों को सालाना 06 हजार रुपये देने की व्यवस्था वर्तमान केन्द्र सरकार ने की है। प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से 02 करोड़ 62 लाख किसानों को लाभान्वित किया जा रहा है। 07 करोड़ 45 लाख कृषक किसान क्रेडिट कार्ड से लाभान्वित हो रहे हैं। मत्स्य पालक और पशु पालकों को भी किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ दिया जा रहा है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से देश में अब तक 48 करोड़ किसानों को 01 लाख 40 हजार करोड़ रुपये का भुगतान किया जा चुका है। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के माध्यम से देश में 78 लाख हेक्टेयर भूमि और प्रदेश में 23 लाख हेक्टेयर भूमि को अतिरिक्त सिंचाई की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मुजफ्फरनगर का गुड़ प्रदेश, देश व दुनिया में अपनी मिठास बिखेर रहा है। प्रदेश सरकार सरधना, मेरठ में मेजर ध्यानचंद स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बना रही है। एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीतने वाली बेटी सुश्री पारुल चौधरी को डिप्टी एस0पी0 का नियुक्ति पत्र प्रदान किया जा चुका है। प्रदेश में 60 हजार पुलिस कार्मिकों की भर्ती प्रचलित है। इस भर्ती में प्रदेश के युवाओं को बिना किसी भेदभाव के अवसर प्रदान किया जाएगा। तेजी के साथ भर्ती प्रक्रिया को आगे बढ़ाते हुए आने वाली पीढ़ी को सुरक्षा का एक बेहतरीन माहौल प्रदान किया जाएगा। सरकार द्वारा आने वाली पीढ़ियों के भविष्य को सुन्दर बनाया जा रहा है। यह तभी होगा, जब किसान खुशहाल व समृद्ध होगा।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में एशियन गेम्स में रजत एवं कांस्य पदक जीतकर युवा कल्याण अधिकारी बने ग्राम काकडा के पुनीत कुमार के पिता जितेन्द्र कुमार, जैविक एवं प्राकृतिक खेती करने वाले ग्राम अमीननगर के कृषक संदीप कुमार, ग्राम दुर्गनपुर के कारगिल युद्ध में शहीद हुये ब्रजपाल सिंह के पिता सिंहराज, गांव टिटौडा के सेवानिवृत्त सैनिक राकेश फौजी एवं शुकतीर्थ गौशाला संचालक मनोहर लाल शर्मा को सम्मानित किया।

मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम के दौरान राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, प्रधानमंत्री युवा स्वरोजगार योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण एवं शहरी), प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना, पी0एम0 स्वनिधि योजना, आयुष्मान भारत योजना, पी0एम0 कुसुम योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, फसल अवशेष प्रबन्धन योजना सहित अन्य योजनाओं के लाभार्थियों को सम्मानित किया।

कार्यक्रम के पश्चात मुख्यमंत्री ने शुकतीर्थ के ग्राम फिरोजपुर बांगर में जाकर किसानों के साथ ‘किसान चौपाल’ में सवांद स्थापित किया। उन्होंने किसानों से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि, पी0एम0 कुसुम योजना, गन्ना भुगतान आदि विषयों पर सवांद स्थापित किया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने किसानों के मसीहा पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने का कार्य किया है। सभी किसान उन्हें इसके लिए धन्यवाद स्वरूप पत्र प्रेषित करें। उन्होंने कहा कि युवाओं को ड्रोन संचालन का प्रशिक्षण उपलब्ध कराया जायेगा। इस अवसर पर ग्रामवासियों ने मुख्यमंत्री को मेमेण्टो एवं गुड़ देकर स्वागत किया गया।

केन्द्रीय पशुपालन और डेयरी राज्यमंत्री डॉ0 संजीव कुमार बालियान ने कहा कि प्रदेश के बदलाव के साथ-साथ जनपद में भी बडे़ बदलाव हुए हैं। गन्ना मूल्य भुगतान के साथ ही बिजली, सड़क एवं सुरक्षा व्यवस्था में बहुत बड़ा परिवर्तन हुआ है। मुख्यमंत्री का 06 माह में जनपद मुजफ्फरनगर दूसरी बार आना यह दर्शाता है कि मुजफ्फरनगर से उनका विशेष स्नेह है। मोरना शुगर मिल हेतु बजट में 65 करोड़ रुपये की व्यवस्था के लिए उन्होंने मुख्यमंत्री जी को धन्यवाद दिया।

कार्यक्रम को विधान परिषद सदस्य भूपेन्द्र सिंह चौधरी एवं सांसद फतेहपुर सीकरी राजकुमार चाहर ने भी सम्बोधित किया।
इस अवसर पर व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कपिल देव अग्रवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा अधिकारीगण उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
");pageTracker._trackPageview();
btnimage