किसान पथ पर अवैध प्लाटिंग व मदेयगंज में निर्माणाधीन मॉल पर चला एलडीए का बुलडोजर

लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ0 इन्द्रमणि त्रिपाठी के निर्देश पर प्रवर्तन जोन-1 व जोन-4 की टीम ने अवैध निर्माण व प्लाटिंग का किया ध्वस्तीकरण

प्रवर्तन जोन-4 की टीम ने महानगर में स्वीकृत आवासीय मानचित्र के विपरीत बन रही बहुमंजिला बिल्डिंग को किया सील

लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष डॉ0 इन्द्रमणि त्रिपाठी के निर्देश पर शहर में अवैध निर्माण व प्लाटिंग के खिलाफ लगातार चलाये जा रहे अभियान के क्रम में मंगलवार को एलडीए के प्रवर्तन दस्ते ने ताबड़तोड़ कार्यवाही की। इस दौरान चिनहट में किसान पथ के किनारे की जा रही एक अवैध प्लाटिंग व मदेयगंज में बन रहे एक अवैध शॉपिंग मॉल के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही की गयी। वहीं, महानगर क्षेत्र में स्वीकृत आवासीय मानचित्र के विपरीत बन रही एक बहुमंजिला बिल्डिंग को सील किया गया।

एलडीए सचिव विवेक श्रीवास्तव ने बताया कि मोहम्मद जावेद उर्फ छोटे मियां व अन्य द्वारा मदेयगंज में मिल्लतनगर ढ़ाल के पास बंधा रोड से 50 मीटर अंदर लगभग 180 वर्गमीटर क्षेत्रफल के भूखण्ड पर शॉपिंग मॉल का निर्माण कराया जा रहा था। प्राधिकरण से मानचित्र स्वीकृत कराये बिना किये जा रहे उक्त अवैध निर्माण के विरूद्ध विहित न्यायालय द्वारा वाद योजित करते हुए ध्वस्तीकरण के आदेश पारित किये गये थे। मंगलवार को प्रवर्तन जोन-4 के जोनल अधिकारी रवि नंदन सिंह के नेतृत्व में सहायक अभियंता अनिल कुमार व अवर अभियंता राकेश कुमार द्वारा स्थानीय पुलिस व पी0ए0सी0 बल के सहयोग से अवैध निर्माण के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही करायी गयी। इस दौरान जे0सी0बी0 मशीन व श्रमिकों के माध्यम से बिल्डिंग के सभी तलों पर निर्माण कार्य ध्वस्त किये गये।

किसान पथ पर अवैध प्लाटिंग पर चला बुलडोजर
प्रवर्तन जोन-1 की जोनल अधिकारी वंदना पाण्डेय ने बताया कि सूर्य प्रकाश सिंह द्वारा चिनहट में किसान पथ के किनारे ग्राम-मेहौरा व सिकन्दरपुर के मध्य लगभग 15 बीघा क्षेत्रफल में अवैध रूप से प्लाटिंग का कार्य करते हुए कालोनी विकसित की जा रही थी। प्राधिकरण से ले-आउट स्वीकृत कराये बिना की जा रही इस अवैध प्लाटिंग के विरूद्ध विहित न्यायालय द्वारा वाद योजित करते हुए ध्वस्तीकरण के आदेश पारित किये गये थे। जिसके अनुपालन में आज सहायक अभियंता शिवा सिंह के नेतृत्व में अवर अभियंता सत्यवीर सिंह व सुरेन्द्र द्विवेदी द्वारा प्राधिकरण पुलिस व स्थानीय थाने के पुलिस बल के सहयोग से अवैध प्लाटिंग के ध्वस्तीकरण की कार्यवाही करायी गयी। इस दौरान डेवलपर द्वारा स्थल पर विकसित की गयी सड़कें, नाली, बाउन्ड्रीवॉल, साइट ऑफिस व भूखण्डों के डिमार्केशन के लिए ईंटों से किये गये चिनाई आदि के कार्य को ध्वस्त कर दिया गया।

महानगर में अवैध बिल्डिंग सील की गयी
प्रवर्तन जोन-5 के जोनल अधिकारी राजकुमार ने बताया कि डी0के0 गुप्ता द्वारा महानगर के सेक्टर-ए में भूखण्ड संख्या-बी-21 पर लगभग 950 वर्गमीटर क्षेत्रफल में स्वीकृत आवासीय भवन मानचित्र के विपरीत रियर सेटबैक को आच्छादित करते हुए बेसमेंट व स्टिल्ट पार्किंग के अतिरिक्त तीन मंजिला भवन का निर्माण कराया गया था। वर्तमान में विपक्षी द्वारा स्थल पर चोरी-छुपे निर्माण/फिनिशिंग का कार्य कराते हुए बिल्डिंग को अध्यासित कराने का प्रयास किया जा रहा था। जिस पर विहित न्यायालय द्वारा सीलिंग के आदेश पारित किये गये थे। इसके अनुपालन में आज सहायक अभियंता एन0एन0 चौबे के नेतृत्व में अवर अभियंता जितेन्द्र कुमार द्वारा प्राधिकरण पुलिस के सहयोग से बिल्डिंग को सील कर दिया गया।

Related Articles

Back to top button
");pageTracker._trackPageview();
btnimage