परिवहन निगम में जल्द शामिल हो सकती है 5000 इलेक्ट्रिक बसें : दयाशंकर सिंह

लखनऊ 12 जून, 2024
उत्तर प्रदेश के परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) दयाशंकर सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में प्रदेश सरकार परिवहन निगम की बसों को इलेक्ट्रिक बसों से रिप्लेस करने की योजना पर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि  5000 इलेक्ट्रिक बसों का 14 जून 2024 को टेंडर प्रक्रिया संपन्न होने जा रही है। प्रदेश को प्रदूषण रहित 5000 इलेक्ट्रिक बसों का सौगात जल्द मिलेगा।

परिवहन मंत्री ने बताया कि प्रथम चरण में प्रयागराज आगरा एवं गाजियाबाद क्षेत्रों से जुड़े जनपदों के बीच लगभग 200 किलोमीटर की दूरी तय करने वाली इलेक्ट्रिक बसें लगाई जाएगी। उन्होंने बताया कि प्रयागराज से निकटवर्ती जनपद जैसे बनारस, कानपुर, विंध्याचल धाम, चित्रकूट, अयोध्या, लखनऊ इत्यादि को जोड़ा जाएगा। इसी प्रकार आगरा एवं गाजियाबाद रीजन के निकटवर्ती जनपदों को भी इलेक्ट्रिक वाहनों से जोड़ा जाएगा। इलेक्ट्रिक बसें पर्यावरण हितैषी होने के साथ साथ आरामदायक भी हैं।

परिवहन मंत्री ने बताया कि इलेक्ट्रिक बसें अनुबंध के आधार पर लगाई जाएगी। बसों पर रखे जाने वाले चालक बस मालिक ही रखेंगे, इसके अलावा परिचालक वाहन मालिक स्वयं भी रख सकते हैं अथवा यूपीएसआरटीसी भी उपलब्ध कराएगी। उन्होंने बताया कि इलेक्ट्रिक वर्षों का किराया वर्तमान में चल रही 3×2 एवं 2×2 सीटर एसी बसों के बराबर ही होगा।

परिवहन मंत्री ने बताया कि चार्जिंग स्टेशन के लिए भूमि और विद्युत कनेक्शन परिवहन निगम उपलब्ध कराएगी। परिवहन निगम के डीपो में यह व्यवस्था उपलब्ध होगी। इन बसों का 12 वर्षों तक मेंटेनेंस वाहन स्वामी स्वयं करेंगे, इसके अलावा ड्राइवर की ट्रेनिंग इत्यादि की व्यवस्था भी वाहन स्वामियों को ही करनी होगी। उन्होंने बताया कि टेंडर के माध्यम से अनुबंध पर लगाए जाने वाली बसें तीन प्रकार की होगी। 12 मीटर लंबी 2×2 सीटर, 12 मीटर लंबी 3×2 सीटर, 9 मीटर लंबी 2ग3 सीटर।

Related Articles

Back to top button
btnimage